Tuesday , March 31 2020

OPEN PAGE

बरेली हिंदुस्तान ने पूरी की तमन्ना की तमन्ना

अखबार का काम महज़ सूचना देना नहीं, बल्कि सेवा भी है। हिंदुस्तान अपने सरोकार जानता है। संवेदना से बढ़कर सेवा को मानता है। कोरोना के कहर ने तमन्ना के सपने तोड़ने की कोशिश की। बरेली की तमन्ना ने सोशल मीडिया का सहारा लिया। मां बनने जा रही तमन्ना, नोएडा में …

Read More »

मेरी कब्र पर भेज देना

“एन95 मास्क और दस्ताने आ जाएं तो कृपया उन्हें मेरी कब्र पर भेज देना. ताली और थाली भी बजा देना वहां! सादर, निराश सरकारी डॉक्टर.” हरियाणा की एक डॉक्टर कामना कक्कड़ ने करीब 14 घंटे पहले प्रधानमंत्री, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री और हरियाणा के मंत्री ​अनिल विज को टैग करते हुए …

Read More »

क्या होती है कोरोना की स्टेज

आइये जाने क्या होती है कोरोना की स्टेज पहली स्टेज विदेश से नवांकुर आया। एयरपोर्ट पर उसको बुखार नहीं था। उसको घर जाने दिया गया। पर उससे एयरपोर्ट पर एक शपथ पत्र भरवाया गया कि वह 14 दिन तक अपने घर में कैद रहेगा। और बुखार आदि आने पर इस …

Read More »

एक घटना जिसकी इज़्ज़त की दुहाई देकर कल थाली पीटी गयी थी….

प्यारे साथियों, इस तरह से यह पत्र लिखना बहुत अजीब सा लग रहा है। लेकिन लगता है कि इस तरह से शायद मेरा दुख, मेरा क्षोभ और वह अपमान जिसकी आग मुझे ख़ाक कर देना चाहती है उससे कुछ हद तक राहत मिल जाए। एक बार को लगा न बताऊं। …

Read More »

मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित करने और झूठे केस में फंसाने का खुलासा

खालिद सैफी और इशरत जहां को दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल द्वारा लगातार झूठे मामलों में फंसाने के विरुद्ध निंदा प्रस्तावित कल शनिवार, 21 मार्च को कड़कड़डूमा कोर्ट मेँ इशरत जहां और खालिद सैफी के जमानत आवेदन पर आदेश आना लंबित था। यह आदेश देर से आया जिसमें इशरत जहां …

Read More »

यस बैंक क्यों डूबा?

यस बैंक क्यों डूबा? 10 बड़े कारोबारी समूहों की 44 कंपनियों ने मिलकर यस बैंक का 34,000 करोड़ रुपये दबा लिया. इन्होंने बैंक से कर्ज लिया और नहीं लौटाया है, जिससे बैंक घाटे में आ गया. कर्ज ना लौटाने और डूब जाने वाली कंपनियों में अनिल अंबानी समूह, कैफे कॉफी …

Read More »

जिंदा रहना है तो सीरियस हो जाओ

न्यूज़ चैनल पर विश्लेषण देख रहा था। इसमें ये बताया गया कि चीन में हज़ारों शवों को, उनके परिवारों से पूछे बिना कहाँ दफनाया गया। ये केवल सरकार जानती हैं, इटली में किसी भी शव को कोई कंधा देने नहीं आ रहा। वे इंसान जब जिंदा थे तो अकेले हो …

Read More »

रंजन गोगोई साहब का राज्य सभा में मनोनयन संविधान आर्टिकल 80 के अनुसार सही नहीं है ?

संवैधानिक प्रश्न है कि क्या रंजन गोगोई साहब को राज्य सभा में मनोनीत करना आर्टिकल 80 के प्रावधान के अनुसार सही है क्यूं कि इसकी उपधारा 3 के अनुसार केवल उन्हीं 12 लोगों को राष्ट्रपति मनोनीत कर सकते हैं जो साहित्य, विज्ञान, आर्ट, और सामाजिक सेवा के क्षेत्र में विशेष …

Read More »

कन्हैया की ‘जन गण मन यात्रा’ क्यों महत्वपूर्ण है?

जो लोग केजरीवाल और आम आदमी पार्टी को पसन्द नहीं करते, वे भी इस बात की तारीफ करते दिखे कि केजरीवाल ने दिल्ली का चुनाव जनता के असल मुद्दों पर लड़ा और बीजेपी की सांप्रदायिक ध्रुवीकरण की कोशिशों को धूल चटा दी। जो लोग कम्युनिस्टों को पसंद नहीं करते, वे …

Read More »

बदलते भारत की बीते 10 दिनों की तस्वीर

महान लोकतंत्र, विश्वगुरु और बदलते भारत की जरा बीते 10 दिनों की तस्वीर देखिये: 1. गुजरात के भुज के एक कॉलेज में 68 लड़कियों के जबरदस्ती अंडर-गारमेंट्स उतरवा दिए गए, ये देखने के लिए की कहीं ये पीरियड्स में तो नहीं है। अगर हैं तो उन्हें किचन और मंदिर से …

Read More »
SUPPORT US

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com