Thursday , June 20 2019

अकबर के गवर्नर ने लखनऊ में बनवाई थी यह जामा मस्जिद

नादान महल रोड स्थित जामा मस्जिद की तामीर लगभग 400 बरस पहले हुई थी। बादशाह अकबर की रियासत में गवर्नर रहे शेख अबदुर्रहीम ने इसका निर्माण करवाया था। यह पुरानी जामा मस्जिद आज भी शहर की शान के रूप में जानी जाती है। दूर-दूर से नमाजी यहां आकर सजदा करते हैं।

पिछले 23 साल से इस मस्जिद की निगरानी कर रहे बदरुद्दीन बताते हैं कि लखनऊ में बादशाही दौर की यह सबसे पुरानी मस्जिदों में एक है। मुगलों के दौर में लखनऊ में कोई जामा मस्जिद न होने के चलते शेख बदरुद्दीन ने इस जामा मस्जिद की तामीर करवाई। उनकी मौत के बाद मस्जिद के सहन के बाहर उन्हें दफन किया गया था। जहां पर अब मकबरा है।

पास में उनकी पत्नी की भी कब्र है। उन्होंने बताया कि जब बादशाह अकबर ने शेख अबदुर्रहीम को यहां की रियासत सौंपी तो उन्होंने लखनऊ को ही अपना कयाम बना लिया। मस्जिद की दीवारों पर बनी नक्काशी अब धुंधली हो गई है, लेकिन मकबरे पर आज भी अरबी भाषा में लिखावट साफ नजर आती है। जुमे की नमाज के अलावा यहां ईद और बकरीद की नमाज अदा करने हजारों की संख्या में नमाजी आते हैं।

About Voice of Muslim

SUPPORT US

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com