Wednesday , October 16 2019

मुझे माफ कर दें पापा, मैंने गलती तो की- साक्षी मिश्रा

साक्षी मिश्रा बोलीं- मैंने गलती तो की, मुझे माफ कर दें पाप

बरेली के बिथरी चैनपुर सीट से विधायक राजेश मिश्रा उर्फ़ पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी मिश्रा ने दलित युवक से शादी करने के बाद बातचीत में कहा कि मैंने गलती तो की है, लेकिन ऐसे हालात हो गए थे. इसलिए मुझे ऐसा करना पड़ा. पापा मुझे माफ कर देना. बता दें कि साक्षी ने दलित युवक अजितेश कुमार से 4 जुलाई को प्रयागराज के राम जानकी मंदिर में लव मैरिज की है.

वहीं प्रयागराज के राम जानकी मंदिर के महंथ ने न्यूज 18 से कहा कि हमारे यहां कोई शादी होती ही नहीं है, पता नहीं ये लोग कैसे और कहा से कह रहे हैं. इस पर साक्षी मिश्रा ने कहा कि हां ये पंडित उस वक्त मंदिर में नहीं थे, लेकिन हमने तो इनके मंदिर में ही शादी की है. इस पर अतिजेश ने कहा कि पंडित जी किसी दबाव में मत आइए.

मम्मी आप दवा खा लो

घर को याद करते हुए साक्षी मिश्रा लाइव टीवी पर ही फूट-फूटकर रोने लगी. साक्षी मिश्रा ने रोते हुए कहा कि मम्मी आप दवा खा लो, और जल्दी ठीक हो जाओ. साथ ही कहा कि आप बेटा और बेटी को एक समान देखों. आपलोग अपनी सोच बदलों.

साक्षी ने अपने पति विधायक राजेश मिश्रा उर्फ़ पप्पू भरतौल और मां से न्यूज के जरिए कहा कि आपलोगों का जब मन करें तो कॉल करना. मैंने गलती तो की है, लेकिन क्या करते ? साथ ही बहन के लिए कहा कि उसमें बहुत टैलेंट है. प्लीज उसे आगे बढ़ने दें.

भाई से बोली साक्षी

साक्षी मिश्रा अपने भाई विक्की भरतौल से कहा कि तुम मेरे लिए फेसबुक पर पोस्ट लिख रहें हो. उस पर मेरे लिए बहुत गंदे-गंदे बातें लिखे जाते है. चाहे कुछ भी हो जाए मैं तुम्हारी बहन हूं. तुम मेरे लिए क्या इतना भी नहीं कर सकते हो की उन लोगों को एक बार बोलो.

भाई से साक्षी मिश्रा ने कहा कि तुम दूसरे जाति के लड़के -लड़कियों से दोस्ती करते हो, तो कोई दिक्कत नहीं है. तो अगर मैने किया तो क्या हो गया?

फेसबुक चलाने के लिए मना करते थे

साक्षी मिश्रा ने कहा कि मेरे पापा मुझे फेसबुक चलाने से भी मना करते थे. वह बहुत ज्यादा कान के कच्चे हैं. मेरे घर में कहने के लिए लड़के- लड़की में कोई भेद नहीं है. लेकिन कम से कम हम तीनों भाई -बहन के रूप में तो भेद- भाव है.

एसएसपी ने कहा – कोई हेल्प नहीं कर सकते

साक्षी मिश्रा ने बताया कि बरेली एसएसपी को जब हमने कॉल कर के बताया कि मुझे मेरे पापा और भाई के लोगों से जान का खतरा है. तो इस पर उन्होंने कहा कि हम इस मामले में कुछ भी नहीं कर सकते हैं. इसके बाद से एसएसपी बरेली ने हमारा फोन उठाना ही बंद कर दिया.

About Voice of Muslim

SUPPORT US

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com