Thursday , April 9 2020

पुलिस को फटकारते हुए कपिल मिश्रा का वीडियो दिखाया और हाईकोर्ट बोला, कार्रवाई करो

दिल्ली हाईकोर्ट में आज कपिल मिश्रा, अनुराग ठाकुर और परवेश वर्मा की वीडियो क्लिप चलाई गयी. मौक़ा था सामाजिक कार्यकर्ता हर्ष मंदर की याचिका पर सुनवाई का. सुनवाई के दौरान कोर्ट ने दिल्ली पुलिस के वकील और अधिकारियों के सामने तीनों नेताओं के वीडियो चलाए. और पुलिस को कहा कि आप कार्रवाई करें, ताकि कोर्ट को कोई आदेश न देना पड़े.

क्या हुआ कोर्ट में? सुनवाई के समय दिल्ली पुलिस की ओर से कोर्ट में उपस्थित हुए सॉलिसिटर जनरल एसजी मेहता. कोर्ट ने दिल्ली में बिगड़ रहे हालातों का जायजा लिया था.

कोर्ट में भाजपा नेता कपिल मिश्रा, सांसद परवेश वर्मा और वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर के वीडियो पर बात शुरू हुई. जस्टिस एस मुरलीधरन ने एसजी मेहता से पूछा कि क्या आपने तीनों वीडियो देखे हैं? एसजी मेहता ने मना कर दिया. इसके बाद कोर्ट ने पूछा कि क्या कोर्टरूम में कोई सीनियर पुलिस अधिकारी मौजूद है. एक पुलिस अधिकारी सामने आया.

अनुराग ठाकुर ने दिल्ली में चुनावी सभा के दौरान भड़काने वाले नारे लगवाए थे. (फाइल फोटो- ANI)

कोर्ट ने पूछा कि क्या आपने तीनों वीडियो देखे हैं? पुलिस अधिकारी ने कहा कि दो देखे हैं, लेकिन कपिल मिश्रा वाला नहीं देखा.

इस पर जस्टिस मुरलीधरन ने आपत्ति जताई. कहा कि क्या आप कह रहे हैं कि पुलिश कमिश्नर ने वो वीडियो ही नहीं देखा है, जो खुद उनसे जुड़ा हुआ है? ये एक गंभीर मुद्दा है. मैं दिल्ली पुलिस का कामकाज देखकर चकित हूं.

इसके बाद कोर्ट ने आदेश दिया कि पुलिस अधिकारियों और एसजी मेहता के लिए कोर्ट में वीडियो चलाए जाएं. कपिल मिश्रा का वीडियो चलाते हुए जस्टिस मुरलीधरन ने चिन्हित किया और कहा कि देखिए, वो (कपिल मिश्रा) तब बोल रहे हैं, जब डीसीपी उनके बगल में खड़ा है.

परवेश वर्मा भी अपने बयान वजह से चर्चा और चुनाव आयोग के घेरे में आए थे.

इसके बाद एसजी मेहता ने वीडियो में कही गयी बात का ट्रांसक्रिप्ट पढ़ा. जस्टिस मुरलीधरन ने कहा कि अब आपने तो वीडियो देख लिया है, आप खुद ही कमिश्नर को आदेश दें ताकि हमें कोई आदेश न देना पड़े. आखिरकार आप भारत के सॉलिसिटर जनरल हैं. इसके बाद बेंच दोपहर 2:30 बजे तक के लिए उठ गयी,

गौरतलब है कि दिल्ली चुनाव के दौराब अनुराग ठाकुर और परवेश वर्मा ने आपत्तिजनक और साम्प्रदायिक रूप से भड़काऊ बयान दिए थे, जिसके बाद चुनाव आयोग ने इन दो नेताओं पर कार्रवाई की थी. 23 फरवरी को भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने मौजपुर चौक पर दिल्ली पुलिस की मौजूदगी में भड़काऊ भाषण दिया. कहा कि तीन दिन इंतज़ार करेंगे. उसके बाद पुलिस की भी नहीं सुनेंगे.

loading...

About Shakeel Ahmad

Voice of Muslim is a new Muslim Media Platform with a unique approach to bring Muslims around the world closer and lighting the way for a better future.
SUPPORT US

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com