Saturday , September 21 2019

वडोदरा के दारुल उलूम मदरसे में है 250 साल पुरानी दुनिया की सबसे बड़ी कुरान शरीफ

Not in any Muslim country but in this country Asia’s largest Quran

वडोदरा के एक मदरसे की ऐसी कहानी जहां दावा किया जाता है कि एशिया का सबसे बड़ा कुरान मौजूद है. ये कुरान फिलहाल वडोदरा के तंदलजा इलाके में बने दारुल उलूम मदरसे में रखी हुई है.

करीब 250 साल पुराना है कुरान

मदरसे के मोहतमिम यानि प्रिंसिपल मुफ़्ती आरिफ साहब इस कुरान की खासियत बताते हैं ये करीब 240 साल पुराना है. वडोदरा के ही मोहम्मद गौस नाम के एक आदमी ने इसे लिखा था. सुरमे वगैरह से मिलाकर इंक बनाई और कागज़ भी खुद बनाया है. इस कुरान का अर्थ और व्याख्या पर्सियन भाषा मे किया गया है. मुफ़्ती आरिफ के मुताबिक इसको लिखने में 20 साल का वक़्त लगा. आपको बता दें कि देश-विदेश से सभी लोग इसे देखने आते हैं. इससे पहले ये कुरान वडोदरा की जामा मस्जिद में रखा गया था. अब फिलहाल ये दारुल उलूम मदरसे में रखा गया है.

q4

रख-रखाव के लिए ईरान से आती है एक टीम 

मुफ़्ती यरफ बताते हैं कि इसके रख-रखाव के लिए ईरान से एक टीम आती है. ये सब ईरान एम्बेसी की देख-रेख में होता है. इस कुरान की लंबाई में लगभग 2 मीटर है और चौड़ाई बंद हालत में 1.5 मीटर का होता है और जब खोलते हैं तो 2.30 मीटर के करीब का हो जाता है. दारुल उलूम मदरसे में 350 बच्चे इस्लामी शिक्षा हासिल करते हैं. साथ ही मदरसे के एक हिस्से में 8वीं तक स्कूल भी चलता है. जहां इंग्लिश मीडियम में 250 और गुजराती मीडियम में 350 छात्र पढ़ते हैं.

देखें वीडियो

About Voice of Muslim

Voice of Muslim is a new Muslim Media Platform with a unique approach to bring Muslims around the world closer and lighting the way for a better future.
SUPPORT US

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com