Wednesday , August 15 2018

STORIES

कविता के रूप में अखबार पढने को मिले तो कैसा रहेगा

By फैसल फरीद अखबार, खबरों आदि से हम सबका वास्ता रहता है. आमतौर पर हर कोई अपनी भाषा में खबरें पढ़ना चाहता है. लेकिन ज़रा सोचिये अगर आपको कविता के रूप में अखबार पढने को मिले तो कैसा रहेगा. मतलब हर खबर कविता के रूप में लिखी हुई. यानी पूरे …

Read More »

Maa Ki Nafarmani Ki Saza – Allah Ke Wali Ka Ibratnaak Waqia …

Walidain Ki Ita’at Kya Darja Rakhti Hai , Aur Inki Nafarmani Ka Natija Kya Hota Hai Chahe Insan Kitna Hi Nek Ho. Aayiye Is Wakiye Par Gour Karte Hai. ♥ Mafhoom-e-Hadees: Rasool’Allah (Sallallahu Alaihay Wasallam) Farmatey Hai Ke – “Humse Pichli Ummat Me Ek Nek Shakhs They Jo Allah Ke Wali …

Read More »

Rasool Allah(ﷺ) Ki Aakhri Wasiyat

  बिददत की हकीकत: रसूल’अल्लाह( सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ) की आखरी वसीयत… मफ़हूम-ए-हदीस: रसूल’अल्लाह( सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ) ने एक रोज़ खुत्बा दिया। एक सहाबी-ए-रसूल अरबाज़ बिन सरियाः (रज़ि’ अल्लाहु अन्हु ) उठे और कहने लगे के “या रसूल’अल्लाह ( सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ) मुझे डर है, मुझे ऐसा गुमान है के कही ये …

Read More »

AURAT KA MAKAAM

1)Aurat Khuda ka diya hua ek Naayaab tohfa hai.. 2)Pregnant aurat ki 2 rakat Namaaz aam aurat k 70 rakat Namaaz se badkar hai. 3)Husband pareshan ghar aye aur biwi use tasalli de to use Jehad ka sawaab milta hai. 4)Jo aurat apne bachche k rone ki wajah se so …

Read More »

चाँद के टूटने के विश्वास से सिद्ध होते है वैज्ञानिक तथ्य …

*बहुत समय से गैर मुस्लिम भाईयों को मुस्लिमों के इस विश्वास का मजाक उडाते देख रहा हूँ कि नबी (सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम) ने चांद के दो टुकड़े कर दिए थे .. ये लोग कहते हैं कि मुसलमान बार बार इस्लाम धर्म को विज्ञान पर खरा उतरने वाला धर्म बताते …

Read More »

Nek Aurat Par “Tohmat” Lagaane Waale Ka Anjaam ….

♥ Mafhoom-e-Hadees: Allah Ke Rasool (Sallallahu Alaihay Wasallam) Farmatey Hai Ke – “Nek Aurat Par “Tohmat” Lagaane Waala Sou (100) Saal Ki Ibaadat Le Kar Aayega Tou Bhi Allah Ta’ala Usey Mardud Qaraar Dega” – (Tibrani) Ek Buzurg the unki biwi zara zuban ki sakht thi Kisi ne kaha hazrat aisi bad …

Read More »

मेरी (अल्लाह) की रहमत गजब पर ग़ालिब है

एक बार का वाकया हजरत मूसा अलैहिस्सलाम को अल्लाह ताला ने हुक्म दिया समंदर की तरफ जाओ वहां तीन कश्तियां डूबने वाले हैं हजरत मूसा अलैहिस्सलाम फौरन हुक्म इलाही की तामील करते हुए समंदर की तरफ चल दिए साहिल पुरसुकून था बहुत दूर से कश्ती आती दिखाई दी जो आहिस्ता-आहिस्ता …

Read More »

मुस्लिम बनने वाले ईसाई का कैसे गुजरा पहला रमजान- दिल को छु लेनें वाली बातें

A Muslim Convert’s First Ramadan: “The Hardest Thing Is Telling Non-Muslims That I’m Fasting” यह आलेख येंटल (Yentl)द्वारा लिखा गया है। येंटल (Yentl)की उम्र लगभग 20 साल की है और वो बेल्जियम में पैदा हुए थे। खेल, लेखन, पढ़ना, और इतिहास और कई अन्य चीजों के बारे में उनके शौक …

Read More »

कैसे हुई हज़रत अली अलैहिस्सलाम की शहादत

उस साल रमज़ान के पवित्र महीने में हज़रत अली अलैहिस्सलाम निरंतर अपनी शहादत की ख़बर दे रहे थे, यहां तक कि इस महीने के दूसरे हफ़्ते के किसी दिन जब वे मिम्बर पर थे, तो उन्होंने अपनी दाढ़ी पर हाथ फेरा और कहाः सबसे दुर्भागी व्यक्ति मेरी दाढ़ी को मेरे …

Read More »

जब हिन्दू मराठा सेनाओं ने श्रीरंगपट्टनम मंदिर को तोड़ दिया था

एक बार मराठा सेनाएं टीपू सुल्तान पर आक्रमण करने श्रीरंगपट्टनम गईं मराठा सेनाएं कौन से धर्म की हैं -हिंदू धर्म और टीपू सुल्तान – मुसलमान। क्या लड़ाई हिंदू-मुसलमान की थी या राज्यसत्ता की? ;-राज्यसत्ता की। अब यह सेनाएं मिली दोनों में लड़ाई हुई और यह लड़ाई बिना हार जीत के …

Read More »
SUPPORT US

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com