Tuesday , April 20 2021

PERSONALITY

नहीं रहे दुनिया को पीडीएफ का तोहफा देने वाले चार्ल्स गेश्की

सॉफ्टवेयर निर्माता कंपनी एडोब (Adobe) के सह-संस्थापक और ‘पोर्टेबल डॉक्यूमेंट फॉर्मट’ (PDF) तकनीक का विकास करने वाले चार्ल्स ‘चक’ गेश्की का निधन हो गया। वह 81 वर्ष के थे। एडोब कंपनी के अनुसार गेश्की का शुक्रवार को निधन हो गया। वह सैन फ्रांसिस्को बे एरिया के लॉस आल्टोस उपनगर में …

Read More »

शिया धर्मगुरु मौलाना डॉ कल्बे सादिक का इंतकाल, आख़िरी दीदार को उमड़ी भीड़

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के उपाध्यक्ष व शिया धर्म गुरु मौलाना डॉक्टर कल्बे सादिक का मंगलवार की रात 10 बजे निधन हो गया। उन्होंने लखनऊ के एरा मेडिकल कालेज में अंतिम सांसें लीं। उनके बेटे कल्बे सिब्तैन नूरी ने उनके निधन होने की पुष्टि करते हुए बताया कि …

Read More »

निज़ाम ने नहीं किया कभी भी धर्म के आधार पर लोगों के साथ भेदभाव

सातवें निज़ाम मीर उस्मान अली खान, पूर्ववर्ती हैदराबाद राज्य के अंतिम शासक और आधुनिक शहर हैदराबाद के वास्तुकार, एक दूरदर्शी व्यक्ति थे जिन्होंने कभी भी धर्म के आधार पर लोगों के साथ भेदभाव नहीं किया, उनके पोते नवाब मीर नजफ अली खान कहते हैं। यह भी पढ़ें : पत्रकार सिद्दीक कप्पन …

Read More »

महान स्वतंत्रता सेनानी अशफ़ाक़ उल्ला खां योमे पैदाइश

भारत को महान स्वतंत्रता सेनानी मिला उनका नाम है अशफ़ाक़ उल्ला खां। इनका जन्म 22 अक्तूबर 1900 में शाहजहांपुर में हुआ था। भारत को आजादी दिलाने में इन्होंने अहम भूमिका निभाई थी। उन्होंने काकोरी काण्ड में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। ब्रिटिश शासन ने उनके ऊपर अभियोग चलाया और 19 दिसम्बर …

Read More »

इन कारों पर सफर कर गांधी जी ने बना दिया अमर

बाबा-ए-कौम महात्मा गांधी जी की आज 151वीं जयंती है। महात्मा गांधी एक एक अज़ीम शख्सियत के मालिक थे। सच्चाई, अदम तशद्दुद के सबसे बड़े पुजारी भी। जो भी उनसे मिलात था खुद का सम्मानित महसूस किया करता था। बापू ने अपनी ज़िंदगी को हमेशा दूसरों के लिए ही जिया है। …

Read More »

ऐसा था महमूद का सुपरस्टार बनने का सफर

हिंदी सिनेमाजगत के मशहूर कॉमेडियन, फिल्मस्टार और निर्देशक महमूद अली का आज जन्मदिन है। 29 सितंबर 1933 को मुंबई में जन्में महमूद भले ही आज हमारे बीच न हों लेकिन आज भी उनकी यादें लोगों के दिलों में जिंदा हैं। महमूद अली का बचपन बहुत ही मुश्किलों भरा रहा, बचपन के …

Read More »

बाराबंकी की अवाम ने भुला दिया खुमार बाराबंकवी को

15 सितम्बर वर्ष 1919 को जन्मे इस इंसान का नाम यूँ तो “मोहम्मद हैदर खान” था लेकिन शायद ही कोई उनके इस नाम से वाकिफ हो, वो तो मशहूर थे खुमार बाराबंकवी या खुमार साहब के नाम से। बाराबंकी जिले को अन्तर्राष्ट्रीय पटल पर पहचान दिलाने वाले अजीम शायर खुमार …

Read More »

डॉ. अब्दुस सलाम- “ये नोबल आपका है सर, मेरा नहीं”

पाकिस्तान के पहले नोबल लोरेयेट डॉ. अब्दुस सलाम को 1979 में पार्टिकल फिसिक्स में नोबल प्राइज़ दिया गया। यह भी पढ़ें : बुज़ुर्ग दंपत्तियों के लिए एसबीआई वीकेयर की विशेष एफडी योजना नोबल मिलने के बाद डॉ. सलाम ने भारत सरकार को अनुरोध किया को वो उन्हें उनके गणित के शिक्षक …

Read More »

बिस्मिल्लाह खान के घर की याददाश्त पड़ गई फीकी

शहनाई वादक उस्ताद बिस्मिल्लाह खान को कौन नहीं जानता। उस्ताद बिस्मिल्लाह खां केवल वाराणसी के ही नहीं बल्कि देश के लिए एक गौरव थे। लेकिन आज उनकी धरोहर खतरे में दिखाई दे रही है। शहनाई के उस्ताद भारतरत्न बिस्मिल्लाह खान की स्मृतियों पर अब संकट खड़ा हो गया है। भारतरत्न …

Read More »

अपने ही शहर में बेगाने हैं मिर्जा ग़ालिब, नज़ीर अकबराबादी और मीर तकी मीर

आगरा। ऐतिहासिक शहर आगरा में जन्मे और अपना प्रारंभिक जीवन यहीं बिताने वाले मशहूर शायर मिर्जा ग़ालिब आज की तारीख में आगरा की भीड़भाड़ तथा आधुनिक चकाचौंध में गुम से हो गए हैं। आज की पीढ़ी को मिर्जा ग़ालिब के बारे में शायद ही इस हकीकत का पता हो कि …

Read More »
SUPPORT US

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com