मौलाना अब्दुल खालिक सम्भली का जन्म 5 जनवरी 1950 को सम्भल में हुआ था। उन्होंने दारुल उलूम देवबंद से शिक्षा हासिल की और संस्था में ही उस्ताद के रूप में अपनी सेवाएं देने लगे। उनकी कड़ी मेहनत, ईमानदारी की बदौलत उन्हें संस्था की वर्किंग कमेटी द्वारा उन्हें संस्था का नायब मोहतमिम नियुक्त किया गया। साथ ही उस्ताद के रूप में छात्रों को हदीस पढ़ाते थे। मौलाना सम्भली बेहद सादा मिजाज थे। दुनिया भर में मौलाना के हजारों शार्गिद हैं।

Please Subscribe- 
Facebook WhatsApp Twitter Youtube Telegram